दो व्यापारियों की हत्या से इरादे से छत्तीसगढ़ पहुंचे लारेंस बिश्नोई गैंग के चार गुर्गे गिरफ़्तार

रायपुर, 26 मई। कुख्यात गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई के गिरोह की धमक छत्तीसगढ़ तक दिखाई देने लगी है। छत्तीसगढ़ के दो व्यापारियों को मारने के लिए सुपारी लेकर आए इसके गैंग के सदस्यों को छत्तीसगढ़ पुलिस पहले गिरफ़्तार नहीं करती तो अवश्य ही ये बड़े हत्याकांड को अंजाम देने का मंसूबा पालकर रायपुर आये हुए थे।

जानकारी के अनुसार पुलिस ने भाड़े के हत्यारों को को पकड़ा है, जो झारखंड में काम कर रहे व्यापारियों को रंगदारी न देने पर हत्या के मंसूबे से रायपुर आये हुए थे। ये व्यापारी झारखंड में बड़ा व्यापार करते हैं, इनसे झारखंड के लोकल गैंग रंगदारी मांग रहे थे। मांगी गई रंगदारी न मिलने पर इन्होंने दहशत फ़ैलाने की दृष्टि से इनकी हत्या की सुपारी लारेंस बिश्नोई गैंग को दे दी। पुलिस ने इन व्यापारियों के नाम उजागर करने से मना कर दिया है, लेकिन दोनों ही छत्तीसगढ़ के बड़े कारोबारी हैं जिनका झारखंड में बड़ा काम है, ये खदान और जमीन-जायदाद, कंस्ट्रक्शन के कारोबारी बताए जा रहे हैं।

ह्त्या के इरादे से आए गिरफ़्तार सुपारी हत्यारों में एक झारखंड का निवासी है तथा तीन राजस्थान के पाली के सारन के बताये जाते हैं। ये पिस्तौल लेकर छत्तीसगढ़ पहुंचे थे और इन्हें यहां के दो कारोबारियों को 20-20 गोलियां मारने के लिए भेजा गया था। तत्परता दिखाते हुए पुलिस ने इन्हें बड़ा हत्याकांड अंजाम देने से पहले ही गिरफ़्तार कर बड़ी सफ़लता प्राप्त की है। उक्ताशय की जानकारी आज कंट्रोल रुम में प्रेस वार्ता के दौरान आई जी अमरेश मिश्रा एवं एस एस पी संतोष सिंह ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *