संयमित जीवन एवं कार्य शैली ही श्रेयकर

किसी भी व्यक्ति ,समाज, राष्ट्र का कल्याण व्यवस्थित कार्य शैली को अपनाकर ही हो सकता है। सुव्यवस्था ही प्रगति का मार्ग प्रशस्त करती है। वेद-पुराण व शास्त्रों में जीवन को सुखी करने के लिए निरोगी काया के साथ संयमित आहार-विहार प्रमुखता दी गई है।

Read more

श्रृंखला साहित्य मंच पिथौरा के तत्वाधान में कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय श्री कन्हैया लाल डड़सेना की स्मृति में जनपद पंचायत पिथौरा (जिला-महासमुंद) के ग्राम टेका में कल

Read more

कविता ठीहे पर काव्य संगोष्ठी का भव्य आयोजन अभनपुर में हुआ

#कविता_ठीहे_पर काव्य संगोष्ठी का आयोजन अभनपुर के गायत्री मंदिर प्रेक्षागृह में संपन्न हुआ। प्रदेश के नामी एवं नवोदित कवि/कवीयत्रियों ने पहुंच

Read more

चोला माटी के हो राम, माटी के गीत गाने वाला, माटी का लाल, माटी में समा गया

जीवन भर माटी-महतारी की महिमा का बखान करने वाला माटी का लाल यह प्रतिभावान कवि छत्तीसगढ़ की माटी में समा गया।

Read more

असमवासी छत्तीसगढ़िया पुस्तक का विमोचन

इनमें से एक पुस्तक ’असमवासी छत्तीसगढ़िया’ के लेखक रायपुर के श्री अशोक तिवारी और दुर्ग के श्री संजीव तिवारी तथा दूसरी पुस्तक ’छत्तीसगढ़ 2018’ के लेखक श्री शिव अनुराग पटेरिया हैं। 

Read more

रतियावन की चेली पार्वती आइना दिखाती है समाज को : अनुराग चतुर्वेदी

एक मासुम बच्चे से शुरू हुई यह संघर्ष यात्रा दारूण कथा बन गई मात्र विधाता द्वारा रचित एक अनगढ़ कृति बनने पर, जिस पर की किसी का सर्वथा कोई वश नहीं।

Read more