कैम्प नंदनवन, जहाँ सुकून से ले सकते हैं प्रकृति का आनंद

पर्यटक घर से घूमने निकलते हैं तो उनके लिए कुछ चीजें अत्यावश्यक होती है। पहला जान माल की सुरक्षा, दूसरा पहुंचने का सरलतम मार्ग एवं तीसरा ठहरने का आरामदायक स्थान एवं भोजन की उत्तम व्यथा। ये सारी चीजें एक स्थान पर उपलब्ध हो जाएं तो पर्यटन सध जाता है। ऐसे ही एक स्थान से आपको हम परिचित करवाते हैं।

उत्तराखंड को दो भागों में बांटा जाता है, पहला गढ़वाल दूसरा कुमाऊं। अधिकतर पर्यटक गढ़वाल में हरिद्वार होकर ही आगे देहरादून या फ़िर ॠषिकेश से देवप्रयाग होकर आगे बढ़ते हैं। दूसरी तरफ़ हम कोटद्वार से ॠषिकेश आ सकते हैं। यहाँ पहुंचने का रास्ता दोनो तरफ़ से। बस ॠषिकेश के समीप मात्र 20 किमी पर बंजी जंपिग स्थान से डेढ़ किमी पहले मोहनचट्टी के पास बैरागढ़ में कैम्प नंदन वन स्थित है। इस कैम्प रिसोर्ट को एक फ़ौजी सुदेश भट्ट ने प्रारंभ किया है।

कैसे पहुंचे?

यह स्थान ॠषिकेश से 20 किमी पर हेंवल नदी के तट पर मोहनचट्टी बैरागढ़ में है। आप आराम से सार्वजनिक परिवहन से 30-40 रुपए खर्च करके इस स्थान तक पहुंच सकते हैं।

ठहरने एवं भोजन की व्यस्था

पर्यटकों के ठहरने के लिए यहां आठ लक्जरी स्विस टैंट के साथ एक बम्बू हट है। हर टैंट में एक डबल बेड एवं एक सिंगल बेड डला है। जिसका किराया सीजन में रिवर राफ़्टिंग सहित प्रति व्यक्ति 2000 रुपए तथा मार्च के बाद 2800 रुपए है। इस किराये में आस पास का क्षेत्र भ्रमण एवं गांव की ट्रेकिंग भी सम्मिलित है।

कैंप मे आधुनिक सुख सुविधाओं के साथ विशेष अवसरों पर पहाडी वाद्य यंत्र ढोल दमाऊ व मसक बीन का आनंद लिया जा सकता है, डीजे की सुविधा सहित खान-पान बेहतरीन पौष्टिक व पहाडी ब्यंजन मे झंगोरे की खीर, मंडुवे की रोटी, आलु की थिंच्वाणी, गहथ का फांणु जैसे स्वादिष्ट खाने का भी लुत्फ उठा सकते हैं, पहाडी ब्यंजन अलग-अलग दिन उपलब्ध हैं।

यहाँ ठहरने के फ़ायदे

पहली बात तो यह रिवर राफ़्टिंग एवं बंजी जंपिंग के समीप है, दूसरी बात यह ॠषिकेश के समीप है एवं सहज पहुंचा जा सकता है। आप यहां से प्राकृतिक सौंदर्य के साथ साथ पर्यटन व तीर्थाटन का एक साथ आनंद ले सकते हैं।

जहां एक ओर ऊंची-नीची घाटियों मे पर्यटक ट्रैकिंग के माध्यम से प्रकृति के बिहंगम दृश्यों को निहार सकते हैं वहीं नंदन वन से तीर्थाटन का भी पर्यटक पुरा लुत्फ उठा सकते हैं। यहां से मात्र 18 किमी की दुरी पर शत्रुघ्न घाट की प्रसिद्ध गंगा आरती मे शामिल होकर सैलानी आसानी से कैंप नंदन वन पहुंच सकते हैं साथ ही कैंप नंदन वन से मात्र दस मिनट पैदल चलकर प्रसिद्ध व पौरांणिक सिद्ध पीठ बिल्लेश्वर महादेव के दर्शन कर सकते हैं।

आस-पास के पर्यटन स्थल

कैंप नंदन वन से लगभग 14 किमी की दुरी पर स्थित हैं प्रसिद्ध नीलंकंठ महादेव मंदिर जहां प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु पहुंचकर शिव दर्शन कर सकते हैं व साथ ही गुरु गोरखनाथ की तपस्थली झिलमिल गुफा के दर्शन जो नंदन वन से मात्र 17 किमी की दुरी पर स्थित है याने पर्यटक सुबह कैंप से निकलकर दिन मे वापस कैंप पहुंच सकते हैं

महर्षि मार्कण्डेय की तपोभूमि व जहां पर महामृत्युंजय का जाप करने से अकाल मृत्यु को टाला जा सकता है यमकेस्वर महादेव जिसकी दुरी लगभग कैंप नंदन वन से लगभग 30 किमी की दूरी पर शत रुद्रा नदी की घाटी मे स्थित है, के दर्शन कर आसानी से वापस कैंप मे आ सकते हैं वहीं कैंप से मणिकुट पर्वत की तलहटी मे पौरांणिक सिद्ध पीठ मां बिंध्यवासनी के दर्शन कर सकते हैं जो कैंप से लगभग 24 किमी की दुरी पर स्थित है।

यदि पर्यटकों के पास समय हो तो पर्यटक इस क्षेत्र के सबसे ऊंचे स्थल महाबगड महादेव, जो प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है के दर्शन भी कर सकते हैं। जहां से हरिद्वार पहाड़ों के बीच एक कटोरे की तरह प्रतीत होता है, इसकी कैंप से दूरी लगभग 50 किमी है।

साथ ही पहाड़ों में पशु-पक्षी, पर्यावरण प्रेमी, एडवेंचर के शौकीन यहां पर उंचे-उंचे पहाड़ों में ट्रैकिंग कर वन्य जीवन का लुत्फ उठा सकते हैं एव ऊंची पहाड़ियों से सैकड़ों मील दूर स्थित गगनचुंबी हिमच्छादित पहाड़ियों के दर्शन कर प्राकृतिक सौंदर्य को निहार सकते हैं।

यदि नंदन वन से बोंगा मुसराली गांवो का ट्रैक किया जाय तो वहां से प्रकृति का मनमोहक दृश्य सैलानियों को वहीं रुकने पर मजबुर कर देता है जहां की ऊंची पहाडियों से टिहरी पौडी ओर चमोली जिलों की सीमाओं को यदि मौसम साफ हो तो आसानी से निहारा जा सकता है। साथ ही यहां की प्राचीन लोक परंपरा रहन-सहन को भी इन ट्रैकों के माध्यम से करीब से देखने का अवसर मिल सकता है

विशेष- आवश्यकता पड़ने पर यहाँ प्राथमिक चिकित्सा उपलब्द है तथा सरकारी चिकित्सालय मात्र एक किमी की दूरी पर स्थित है। यहाँ पर भरपूर नेट का उपयोग कर सकते हैं, जियो, एयरटेल, बीएसएनल एवं वोडा फ़ोन 4 जी नेट सहजता से चलता है। बंजी जंपिंग व रिवर राप्टींग की सुविधा बी कैंप नंदन वन मुहैय्या करवाता है।

तो एक बार इस स्थान का आनंद अवश्य लीजिए तथा सुदेश भट्ट जी से उनके नम्बर 9412057225, पर कॉल एवं वाट्सएप द्वारा सम्पर्क कर सकते हैं।

5 thoughts on “कैम्प नंदनवन, जहाँ सुकून से ले सकते हैं प्रकृति का आनंद

  • January 4, 2019 at 12:28
    Permalink

    OK, very nice information .

    Reply
  • January 5, 2019 at 23:27
    Permalink

    awesome place .delicious food ..and excellent service ….i hav tried once ..will come next time soon ..thnk u camp nandan van

    Reply
  • January 6, 2019 at 06:46
    Permalink

    बहुत बहुत शुभकामनाएँ ।
    सुदेश भट्ट “दगड्या” का यह मिशन बेहतरीन सफल हो इसके लिए शुभकामनाएँ

    Reply
  • January 8, 2019 at 13:47
    Permalink

    गज़ब की जानकारी सच में कई को पता नहीं होगी
    आभार आपका ❤️🙏❤️

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *