Category archives for: पुरातत्व

हरिलाल गांधी ने सतना के फ़ैज होटल में गुजारे थे कुछ वर्ष

सतना के बाजार में पन्नी लाल चौराहे पर छोटा सा साधारण होटल और कबाब बिरयानी का साईन बोर्ड लगा हुआ है। यहाँ पहुंचने पर लाल प्रमोद प्रताप सिंह कहते हैं कि कभी यहाँ कई वर्षों तक गांधी जी के पुत्र हरिलाल ने मुसलमान होने के बाद कई वर्ष इसी होटल में बिताए थे। यह सुनकर […]

ढोलकल पर्वत शिखर में पुनः विराजित हुए गणपति…

प्रतिमा स्थापित होने पर ग्रामीणों ने मनाया उत्सव दंतेवाड़ा > ढोलकल के पर्वत शिखर में बुधवार को विघ्नहर्ता भगवान गणपति पुनः विराजित हो गए… तीन दिनों से चल रहा गणेश प्रतिमा के रिस्टोरेशन का कार्य आज पूरा हुआ… इस मौके पर पहाड़ी की तलहटी में एकत्रित ग्रामीणों ने उत्सव मनाया… बुधवार को ढोलकल शिखर पर […]

पुरातत्ववेत्ता अरुण कुमार शर्मा को पद्म श्री अलंकरण

भारत के प्रख्यात पुराविद एवं छत्तीसगढ़ शासन के पुरातात्विक सलाहकार श्री अरुण कुमार शर्मा को “पद्म श्री” से अलंकृत करने की घोषणा भारत सरकार ने की है। ज्ञात हो कि श्री अरुण शर्मा ने भारत के अन्य स्थानों के साथ छत्तीसगढ़ में सिरपुर, छीताबाड़ी राजिम, करकाभाट, मदकू द्वीप एवं अन्य स्थानों पर पुरातात्विक उत्खनन के […]

मल्हार की प्राचीन प्रतिमाएँ

मल्हार पर प्राण चड्ढा जी से चर्चा हो रही थी। उन्होनें बताया कि 25-30 वर्ष पूर्व मल्हार में प्राचीन मूतियाँ इतनी अधिक बिखरी हुई थी कि महाशिवरात्रि के मेले में आने वाले गाड़ीवान मूर्तियों का चूल्हा बना कर खाना बनाते थे। इसके वे साक्षी हैं। मल्हार पुरा सम्पदा से भरपूर नगर था। वर्तमान मल्हार गाँव […]

खोपड़ी: महापाषाण कालीन सभ्यता का साक्षी

भूगोल में किसी एक प्रदेश या भूखंड में सभ्यताएं स्थाई नहीं रही। प्रकृति के चक्र के साथ नया बनता गया तो पुराना उजड़ता गया। जब आर्यावर्त की सभ्यता डंके सारे विश्व में बजते थे तब आज के शक्तिशाली राज्य अमेरिका नामो निशान भी नहीं था। महाभारत के युद्ध में सब कुछ गंवा देने के बाद […]

रामटेक की रामटेकरी

पृथ्वीसेन द्वितीय के बाद प्रवरपुर पर बौद्धों का कब्जा हो गया। पैलेस को बौद्ध विहार का रुप दे दिया गया। पैलेस के चारों ओर छोटी छोटी कुटिया बना दी गयी। जिसमें बौद्ध साधू निवास करने लगे। बौद्ध धर्म से संबंधित शिक्षाएं दी जाने लगी। बौद्ध धर्म की धार्मिक शिक्षाओं का केन्द्र बन गया। कहते हैं […]

Photo Gallery

Log in | Designed by R.S.Shekhawat