Category archives for: छत्तीसगढ

बिलासा महोत्सव बिलासपुर : श्री द्वारिका प्रसाद अग्रवाल एवं श्री संजीव तिवारी सहित अन्य होंगे सम्मानित।

अट्ठाईसवाँ त्रिदिवसीय बिलासा महोत्सव 9 फरवरी 2018 से संध्या 7 बजे लालबहादुर शास्त्री स्कूल मैदान में प्रारंभ होगा। बिलासा कला मंच द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित बिलासा महोत्सव में 9 फरवरी को हमर पारा तुंहर पारा के प्रसिद्ध गायक श्री सुनील मानिकपुरी(कोरिया), श्री चंदन यादव एवम साथी कलाकारों द्वारा छत्तीसगढ़ी गीत,नृत्य, संगीत, बालमुकुंद पटेल द्वारा भरथरी गायन […]

कौन हैं वे लोग जिन्होंने मनुष्य के जीवन की धारा बदल दी?

आदि मानव ने सभ्यता के सफ़र में कई क्रांतिकारी अन्वेन्षण किए, कुछ तो ऐसे हैं जिन्होने जीवन की धारा ही बदल दी। प्रथम अग्नि का अविष्कार था। उसके बाद मिट्टी में से धातूओं को पहचान कर उसका शोधन कर अलग करने की विधि की खोज हुई, लोगों ने आश्चर्य से मिट्टी को तांबा, लोहा, सोना, […]

राजिम कुंभ में बना विश्व कीर्तिमान

महानदी, पैरी और सोंढूर नदियों के पवित्र संगम पर छत्तीसगढ़ में चल रहे 15 दिवसीय राजिम कुंभ के आठवे दिन आज नदियों के संरक्षण और मानव कल्याण की भावना के साथ श्रद्धालुओं ने लगभग तीन लाख दीये जलाकर एक नया विश्व कीर्तिमान स्थापित किया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित सभी वरिष्ठजनों ने इसकी प्रशंसा की। […]

लिथुआनिया के निवासी क्यों मानते हैं भारत को अपने पूर्वजों की भूमि?

युरोप के एक देश लिथुआनिया से भारत के गहरे सांस्कृतिक संबंध हैं। लिथुआनिया के निवासी मानते हैं कि भारत उनके पूर्वजों की भूमि है क्योंकि उनकी संस्कृति एवं वैदिक संस्कृति में काफ़ी समानताएँ हैं। उपरोक्त जानकारी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से आज उनके निवास में लिथुआनिया की गुरुमाता श्रीमती इनिजा ट्रिंकुनेइने ने सौजन्य मुलाकात के […]

नया रायपुर में हॉफ मैराथन 11 फरवरी को

नया रायपुर में 11 फरवरी को सुबह सात बजे से हॉफ मैराथन का आयोजन किया जा रहा है। अब तक 18 हजार से अधिक धावकों ने इसके लिए पंजीयन करा चुके हैं। इनमें छत्तीसगढ़ के अलावा दूसरे राज्यों के आठ सौ से अधिक और विदेशों से 13 मैराथन धावक शामिल है। मुख्य सचिव श्री अजय […]

बस्तर राजा ने क्यों बनवाया तालाब?

बात 1956-57 की है, बस्तर नरेश प्रवीण चंद भंजदेव वर्तमान कांकेर जिले के हल्बा गाँव के टिकरापारा पहुंचे, उनके स्वागत में सारा गाँव इकट्ठा हुआ। गाँव की चौपाल में उनके लिए खाट बिछाकर ग्रामीणों ने स्वागत किया, वे आकर खाट पर विराज गए। राजा के आगमन पर गाँव के सभी नागरिक इकट्ठे हो गए। राजा […]

Photo Gallery

Log in | Designed by R.S.Shekhawat