समाज कल्याण मंत्री ने नारियल भेंट कर तीर्थ यात्रियों को सम्मानित किया

 

रायपुर, 02 फरवरी 2013/ समाज कल्याण मंत्री सुश्री लता उसेंडी ने मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत तिरूपति, रामेश्वरम और मदुरै की यात्रा कर वापस छत्तीसगढ़ लौटे कोण्डगांव जिले के तीर्थ यात्रियों से मुलाकात की। इस मौके पर सुश्री उसेंडी ने सभी तीर्थ यात्रियों को नारियल भेंट कर सम्मानित किया। सुश्री उसेंडी ने तीर्थ यात्रियों को शुभकामनाएं और बधाई देते हुए कहा कि तीर्थ यात्रा में जो भी छोटी-मोटी समस्या आ रही है उन्हें भी दूर किया जाएगा। उत्साहित और आनंदित अनेक तीर्थ यात्रियों ने इस अवसर पर समाज कल्याण मंत्री को सुखद यात्रा संस्मरण भी सुनाएं। उल्लेखनीय है कि समाज कल्याण मंत्री ने इन तीर्थ यात्रियों को यहां एक निजी होटल में दोपहर के भोजन के लिए आमंत्रित किया था।

उल्लेखनीय है कि गत 27 जनवरी को कोण्डागांव, कांकेर और नारायणपुर जिले के करीब एक हजार तीर्थ यात्री तिरूपति, रामेश्वरम और मदुरै के लिए पांच दिवसीय यात्रा के लिए रवाना हुए थे, जो आज छत्तीसगढ़ वापस लौट आए हैं। तीर्थ यात्रा से वापस लौटे सभी तीर्थयात्रियों ने ईश्वर का जयकारा लगाकर अपनी खुशी जाहिर की। तीर्थ यात्रियों ने छत्तीसगढ़ मृख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना की सराहना करते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह और समाज कल्याण मंत्री सुश्री लता उसेंडी को धन्यवाद दिया। कोण्डगांव जिले के माकड़ी के रहने वाले 67 वर्षीय तीर्थ यात्री श्री दस्सुराम दीवान ने कहा कि यह उनके लिए बहुत खुशी की बात है कि उन्हें और उनकी पत्नी को साथ में तीर्थ यात्रा पर जाने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि इससे पहले उन्हें इस जीवन में ऐसा सुखद मौका कभी नहीं मिला। उन्होंने बताया कि तीर्थ यात्रा के दौरान उन्हेें कोई परेशानी नहीं हुई । तीर्थ यात्रियों के लिए नाश्ते और भोजन की बहुत अच्छी व्यवस्था थी। इसी गांव के निवासी 70 वर्षीय श्री नीरगदराम ने कहा कि देश के तीन महत्वपूर्ण तीर्थों की यात्रा कर उनका जीवन धन्य हो गया।
माकड़ी के निवासी 65 वर्षीय श्री चितरंजन विश्वास और 60 वर्षीय श्रीमती अनुसईया ने इस यात्रा के लिए समाज कल्याण मंत्री सुश्री लता उसेंडी के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि तीर्थ यात्रा करने में उन्हें बहुत आनंद आया । यात्रा के दौरान रूकने, बैठने, नाश्त,े भोजन और सुरक्षा आदि की बहुत अच्छी व्यवस्था थी। यहीं की निवासी 60 वर्षीय श्रीमती बालदईया ने बताया कि तीर्थ यात्रा में उन्हें कोई समस्या नहीं हुई और सभी तीर्थ स्थलों में बहुत अच्छे से देखने-सुनने को मिला। कोण्डागांव निवासी 65 वर्षीय मालोदिया मजूमदार ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना शुरू नहीं होती ,तो उनके लिए इस जीवन में इन तीर्थों की यात्रा करना संभव नहीं होता। इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग के सचिव श्री सुब्रत साहू, संयुक्त संचालक श्री एम.एल. पाण्डेय सहित संबंधित अधिकारी और तीर्थ यात्री उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.