सरगुजा में राज्य के छठवें सरकारी मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि संभागीय मुख्यालय अम्बिकापुर में शासकीय मेडिकल कॉलेज की स्थापना से आदिवासी बहुल सरगुजा संभाग के लोगों का वर्षों पुराना एक सपना आज साकार हुआ है। उन्होंने इसे सरगुजा और सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ की जनता के लिए गौरव का दिन बताया।
सरगुजा में मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ करते हुए स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा एवं मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह

सरगुजा में मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ करते हुए स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा एवं डॉ रमन सिंह

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री जगत प्रकाश नड्डा ने संभागीय मुख्यालय अम्बिकापुर में छत्तीसगढ़ के छठवें सरकारी मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ किया। उन्होंने समारोह में इस मेडिकल कॉलेज के लिए 400 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले विशाल भवन परिसर का शिलान्यास भी किया।
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरगुजा का यह मेडिकल कॉलेज छत्तीसगढ़ राज्य की विकास यात्रा में मील का पत्थर साबित होगा। श्री नड्डा ने यह भी बताया कि सरगुजा में शुरू किए गए मेडिकल कॉलेज में 90 प्रतिशत विद्यार्थी इसी क्षेत्र के हैं, जो निकट भविष्य में डॉक्टर बनकर जनता की सेवा करेंगे। इस अंचल की जनता को मेडिकल कॉलेज के जरिए सुपर स्पेशलिटी चिकित्सा सेवाएं भी मिलेेंगी।
केन्द्रीय मंत्री श्री जे.पी. नड्डा और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत सरगुजा संभाग के सभी पांच जिलों-कोरिया, सूरजपुर, सरगुजा, जशपुर और बलरामपुर-रामानुजगंज के लगभग एक लाख 62 हजार गरीब परिवारों को महिलाओं के नाम पर रसोई गैस कनेक्शन तथा गैस चूल्हा और सिलेण्डर वितरण कार्य का भी शुभारंभ किया।
श्री नड्डा ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार के प्रस्ताव पर बिलासपुर में नेशनल राष्ट्रीय कैंसर चिकित्सा संस्थान की स्थापना के लिए 120 करोड़ रूपए और जगदलपुर में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल शुरू करने के लिए 200 करोड़ रूपए मंजूर किए गए हैं।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे.पी. नड्डा के प्रति आभार प्रकट किया।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहा कि सरगुजा क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज खुलने से आज का दिन केवल सरगुजा ही नहीं, बल्कि छत्तीसगढ़ के लिए भी गौरव का दिन है। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा द्वारा आदिवासी बहुल अंचल के इस मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर को मान्यता दिलाने के लिए व्यक्तिगत रूचि लेकर और नियमों को शिथिल करते हुए कार्य किया गया है, इसके लिए सरगुजा सहित छŸाीसगढ़ की जनता की ओर से उन्हें धन्यवाद दिया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा के सहयोग के बिना इस मेडिकल कॉलेज को मान्यता मिलना संभव नहीं था, इस मेडिकल कॉलेज में 100 सीट स्वीकृत होने से ग्रामीण क्षेत्र के ऐसे बच्चे जिन्हें मेडिकल की पढ़ाई करने का अवसर नहीं मिलता या फिर इसके लिए उन्हें अगले वर्ष पुनः पीएमटी की परीक्षा देनी पड़ती थी। उन्हें भी इस वर्ष मेडिकल कॉलेज के खुलने से चिकित्सा शिक्षा प्राप्त करने का सुअवसर प्राप्त हुआ है।
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की लगातार पहल पर आदिवासी बहुल सरगुजा अंचल में विगत लगभग बारह साल में कई महत्वपूर्ण कार्य हुए हैं, जिनमें सरगुजा विश्वविद्यालय की स्थापना, सहकारी शक्कर कारखाने की स्थापना, इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना और अब मेडिकल कॉलेज की स्थापना शामिल है। विश्रामपुर से अम्बिकापुर तक रेल सेवा भी शुरू हो चुकी है।

Short URL: http://newsexpres.com/?p=1354

Posted by on Sep 3 2016. Filed under futured, छत्तीसगढ. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can leave a response or trackback to this entry

Leave a Reply

Photo Gallery

Log in | Designed by R.S.Shekhawat