ढोलकल पर्वत शिखर में पुनः विराजित हुए गणपति…

प्रतिमा स्थापित होने पर ग्रामीणों ने मनाया उत्सव
दंतेवाड़ा > ढोलकल के पर्वत शिखर में बुधवार को विघ्नहर्ता भगवान गणपति पुनः विराजित हो गए… तीन दिनों से चल रहा गणेश प्रतिमा के रिस्टोरेशन का कार्य आज पूरा हुआ… इस मौके पर पहाड़ी की तलहटी में एकत्रित ग्रामीणों ने उत्सव मनाया…

बुधवार को ढोलकल शिखर पर गणपति को देखने इतने श्रद्धालु पहुँचे कि पूरा ढोलकल ट्रेल जनसमूह से भर गया… पर्वत की तलहटी से लेकर शिखर तक की चढ़ाई तक बहुत से श्रद्धालु समूहों में गणपति के दर्शन करने पहुंचे… इधर, पर्वत की तलहटी में ग्रामीणों ने परंपरागत तरीके से ढोल बजाकर और गौर नृत्य कर अपनी खुशी का इज़हार किया…
आज ढोलकल के चारों ओर उत्सव सरीखा माहौल था… इस उत्सव में भाग लेने जिला पंचायत अध्यक्ष कमला नाग, उपाध्यक्ष मनीष सुराना, दंतेवाड़ा नपा अध्यक्ष दीपक कर्मा, जिला पंचायत सदस्य चैतराम अटामी, पूर्व विधायक भीमा मंडावी सहित अनेक जनप्रतिनिधि भी पहुँचे…
इस खास मौके पर बस्तर कमिश्नर दिलीप वासनीकर, कलेक्टर सौरभ कुमार एवं एसपी कमलोचन कश्यप भी पहुँचे थे… कमिश्नर ने कहा कि ढोलकल पर्वत शिखर में भक्ति और सुंदरता का सुंदर संयोग मन को मोह लेता है… आज गणपति जी के पुनः विराजित होने पर इतने सारे लोग उनके दर्शन हेतु पहुँचे हैं, यह बहुत शुभ संयोग है…

कलेक्टर सौरभ कुमार ने कहा कि ढोलकल में तीन दिनों तक पुरातत्व विभाग ने तकनीकी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए गणेश प्रतिमा के रिस्टोरेशन का काम किया… इस कार्य से फरसपाल और निकटवर्ती गाँव की जनता उत्साहित तो है ही, पूरे प्रदेश में इससे लोग हर्षित हैं…
इस अवसर पर पद्मश्री डॉ. अरुण कुमार शर्मा ने कहा कि ढोलकल पर्वत शिखर पर गणपति पुनः विराजित हुए… आज रिस्टोरेशन का काम पूरा हुआ… हमें इस बात की खुशी है कि इस काम को देखने इतनी संख्या में गाँव वाले और दूर-दूर से लोग पहुँचे हैं.
(साभार- बस्तर खबर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.