डॉ. खूबचंद बघेल कृषक रत्न पुरस्कार हेतू आवेदन आमंत्रित

कृषि उप संचालक कार्यालयों में 31 जुलाई तक जमा किए जा सकेंगे आवेदन
रायपुर, 05 जुलाई 2014/ राज्य शासन ने कृषि विभाग के अंतर्गत डॉ. खूबचंद बघेल, कृषक रत्न पुरस्कार 2014 के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। पुरस्कार के अंतर्गत दो लाख रूपए की राशि व प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है। आवेदन जिला मुख्यालयों में स्थित कृषि विभाग के उप संचालक कार्यालयों में निःशुल्क प्राप्त किया जा सकता है।  कृषि विभाग के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि भरे हुए आवेदन पत्र संबंधित जिलों के उप संचालक कृषि कार्यालयों में ही जमा किया जाना है। अंतिम तिथि के बाद आने वाले आवेदनों पर कोई विचार नहीं किया जाएगा।
अधिकारियों ने बताया कि विगत दस वर्षों से छत्तीसगढ़ में खेती करने वाले छत्तीसगढ़ के मूल निवासी किसान इस पुरस्कार के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके साथ यह भी जरूरी है कि आवेदक किसान की वार्षिक आमदनी में से कम से कम 75 प्रतिशत आय कृषि से हो। तकाबी, सिंचाई शुल्क और सहकारी बैंकों के डिफाल्टर (कालातीत) ऋणी किसान आवेदन करने के पात्र नहीं होंगे। अधिकारियों ने बताया कि डॉ. खूबचंद बघेल कृषक रत्न पुरस्कार हर साल खेती-किसानी के क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य करने वाले किसानों को दिया जाता है। इसमें ऐसे किसान शामिल रहते हैं, जो खेती में नई तकनीकी को अपनाते हांे तथा जिनकी फसल सघनता अच्छी हो। समन्वित कृषि प्रणाली तथा फसल विविधिकरण को अपनाने, कृषि क्षेत्र में नव अन्वेषी कार्य करने, भूमि एवं जल संरक्षण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने, कृषि संसाधनों का श्रेठ उपयोग करने तथा कृषि विपणन में योगदान देने वाले किसान आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र में इन तथ्यों का सत्यापन विकासखण्ड स्तरीय समिति द्वारा किया जाएगा। पुरस्कार के लिए किसानों का चयन जिला स्तरीय छानबिन समिति एवं राज्य स्तरीय ज्यूरी के द्वारा किया जाएगा।

Short URL: http://newsexpres.com/?p=983

Posted by on Jul 5 2014. Filed under खेत-खलिहान, छत्तीसगढ. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can leave a response or trackback to this entry

Leave a Reply

Photo Gallery

Log in | Designed by R.S.Shekhawat