रायपुर में बाबा साहब की 127 वीं जयंती मनाई गई

रायपुर / मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज भारत रत्न और संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर की 127 वीं जयंती की अवसर पर राजधानी रायपुर के घड़ी चौक स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करके उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि बाबा साहब ने समाज के कमजोर तबकों को स्वाभिमान के साथ आगे बढ़ने का रास्ता दिखाया। उन्होंने एक ऐसे आदर्श समाज का सपना देखा, जहां जाति का और ऊंच-नीच का भेदभाव ना हो, सभी को समान अवसर मिले। हमारा समाज प्रगतिशील समाज हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा साहब ने संविधान के माध्यम से समाज के कमजोर तबके को अधिकार संपन्न बना कर उनमें स्वाभिमान जगाया और आगे बढ़ने का रास्ता दिखाया।

डॉ. भीम राव अंबेडकर सार्वजनिक जयंती समारोह समिति द्वारा आयोजित समारोह की अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने की।

नगर निगम रायपुर के महापौर श्री प्रमोद दुबे, छत्तीसगढ़ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष श्री सुरेंद्र सिंह कैम्बो, सदस्य श्री तौकीर रजा, छत्तीसगढ़ राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष डॉ. सियाराम साहू, छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष श्री विकास मरकाम, नगर निगम रायपुर के सभापति श्री प्रफुल्ल विश्वकर्मा, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव, पूर्व महापौर श्री सुनील सोनी, पूर्व पार्षद श्री सुनील बांदरे सहित अनेक जनप्रतिनिधि इस अवसर पर उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा साहब युग पुरुष थे, उन्होंने नागपुर की धर्म सभा में लाखों लोगों के सामने बुद्धम् शरणम गच्छामि का उदघोष कर लोगों को भारतीय संस्कृति से जोड़े रखने का निर्णय लिया। उनका यह निर्णय युगों-युगों तक याद रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि बाबा साहब के आदर्शों के अनुरुप समाज संगठित होकर सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रहा है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने बाबा साहब को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर ने संविधान के माध्यम से समाज की एकता को बनाए रखने और सामाजिक कुरीतियों को समाप्त करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने संविधान के प्रावधानों के जरिए सामाजिक विषमता को दूर करने और समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास की रोशनी पहुंचने का कार्य किया। श्री अग्रवाल ने बाबा साहब के सपने को पूरा करने के लिए सभी से मिल कर काम करने का आव्हान किया।

मुख्यमंत्री ने समारोह में छत्तीसगढ़ की सुप्रसिद्ध लोक गायिका श्रीमती कविता वासनिक को आयोजकों की ओर से सम्मानित किया। उन्होंने छत्तीसगढ़ अल्पसंख्यक आयोग की वेब साइट का लोकार्पण किया। इस वेवसाइट के जरिए अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को आसानी से प्रमाण पत्र प्राप्त हो सकेंगे। डॉ. सिंह ने अवसर पर गीतों की सी.डी. और भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर पर प्रकाशित पुस्तकों का विमोचन भी किया। समारोह में श्री प्रबोध मिंज, सहित बड़ी संख्या में प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे।

Short URL: http://newsexpres.com/?p=2470

Posted by on Apr 14 2018. Filed under छत्तीसगढ. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed

Recent Posts

Photo Gallery

Log in | Designed by R.S.Shekhawat